पराई लड़की की अन्तर्वासना और मेरी फटी गांड

हेल्लो मेरे लंड से प्यारे दोस्तों कैसे हैं आप सभी ओपर मैं हूँ आपका लंडूरा जो की आपको कहानी बताता हूँ | दोस्तों ये कहानी थोड़ी अनोखी है क्यूंकि इसमें मैंने अपने दोस्त की बीवी को तो चोदा ही है पर उसकी बीवी की बहन को भी चोदा है | मैंने कुछ नहीं कहा अपने दोस्त से क्यूंकि वो तो बेचारा झान्टू था क्यूंकि उसका लंड नहीं लहसुन है | उसका नाम है राहुल और उसके अन्टोले भी बहु छोटे है बिलकुल एक छोटे टमाटर जैसे | हाँ एक चीज़ है उसके पास जो कि बहुत बड़ी है और वो है उसकी झांटे | जी हाँ दोस्तों जब उसकी झांटे बड़ी हो जाती है तब उसका लंड जो की लहसुन जैसा है वो गायब हो जाता है | मैंने उससे कभी नहीं कहा कि मुझे अपने घर लेके चल पर अब ये उसकी गलती थी जो वो मुझे ले गया था | अब मैं दिखने में स्मार्ट हूँ तो कोई भी लड़की मुझसे आसानी से इम्प्रेस हो जाती है | मैंने उसकी बीवी को भी कुछ नहीं किया जो हुआ अपने आप हुआ और इसमें मेरा कोई कसूर नहीं है जज साहब | सॉरी वो मुझे अपना पुराना केस याद आ गया |

मेरा काम य्ताही है एक तो मैं चुदाई करता हूँ और दूसरा मैं ठुकाई करता हूँ | एक मैं गांड मरता हूँ और दूसरे में गांड तोड़ता हूँ | मुझे कई लोग खुद से दूर रखते बस यही गांडू था जो मुझे बहुत मानता था क्यूंकि एक बार मैंने इसकी गांड टूटने से बचाई थी | फिर क्या उसके बाद ये मुझसे सेट हो गया और मुझे अपना भाई मानने लगा | इसकी शादी के समय जो झगडा हुआ था उसको भी मैंने ही संभाला था | इसलिए ये मुझे और भी ज्यादा मानता है पर अब इसकी बीवी मुझे भी बड़ी उम्मीद से भरी नज़रों से देखती है क्यूंकि इसके बच्चे नहीं है न | नहीं नहीं बावा मैंने कोई बच्चे पैदा नहीं किये क्यूंकि मुझे फ्री की चुदान का शौक नहीं है | अपन ने जब भी उसकी बीवी को चोदा कंडोम लगाके ही चोदा | और तो और जब उसकी बहन को चोदा तब भी मैंने कंडोम ही लगाया क्यूंकि उसकी भी शादी हो गयी है पर उसका पति भी चोदु है | मुझे तो कभी कभी ऐसा लगता है जैसे मैंने दुनिया में जन्म ही इसलिए लिया है कि मैं दूसरों की बीवियों को चोदु और उन्हें खुश करून | साला मुझे कभी नहीं मिली बीवी जिसको मैं मन भर के चोदु वो भी बिना कंडोम के |

मूझे तो लगने लगा था जैसे मैं दूसरो की बहु बेटियों को चोदते हुए ही मर जाऊँगा अपना नहीं मिलेगा कभी कुछ | पर एक दिन राहुल आया और उसने मुझसे कहा भाई आपकी भाभी तो बड़ा अच्छा खाना बनती है और मैंने गलती से कह भाई हमको भी खिलवाओ कभी | बस ये कहना मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी गलती थी और मैं इस चीज़ के लिए आज तक खुद को कोसता हूँ | आप सुनना चाहते हो न क्यों तो लो सुनो | दोस्तों मेरे माँ बाप ने मुझे अच्छे से पला है मैं देसी घी खेत की ताज़ी सब्जियां ताज़ा दूध ये सब खा के बड़ा हुआ हूँ और मुझे बिलकुल भी कमजोर न समझना क्यूंकि 17 का डोला है मेरा | अब साला राहुल के साथ मैं चला तो गया उसकी बीवी ने खाना भी खिलाया पर मुझे पता नहीं क्यों इतना अच्छा नहीं लगा | वो लोग शेहरी खाना खाते है और अपना बिलकुल देसी | पर क्या करता तारीफ तो करनी ही थी इसलिए कर दी | बस इस तारीफ से सारे पंगे शुरू हो गए और मेरी गांड मर गयी |

पता नहीं कहा से राहुल की बीवी ने मेरा नंबर निकाल लिया और मुझसे चिपकने लगी और तो और अपनी बहन को भी मेरा नंबर दे दिया ताकि वो भी मुझसे पट जाए साली दोनों औरत बिलकुल बदमाश किस्म की थी |

मैंने सोचा कोई काम होगा इसलिए मुझे फोन किया है और उसके बाद उसने बोलना चालु किया आप बड़े सुन्दर और सुडोल लगते हो | मैंने सोचा बावा कुछ तो गड़बड़ है मैंने कहा भाभी जी अगर आपको कोई काम हो तो बताइए मैं करवा दूंगा | उसने कहा अरे रुक जाओ मेरे सैयां मुझे बस तुमसे काम है | मैंने कहा जी आप ये क्या बोल रही हैं | उसने मुझे कहा ज़रा अपना मोबाइल चेक करो फिर मुझे बताना | मैंने अपना फोन देखा तो उसमे कुछ तसवीरें थी और जब मैंने उनको खोला तो मेरे होश उड़ गए | उसमे मेरे लंड की तस्वीर थी | मैंने तुरंत फोन लगाया और पुछा ये क्या है | तब उसने कहा जब आप मेरे बाथरूम में थे तब मैंने देखा था छुप के और फोटो खींच ली | मैंने बोला देखिये ये तो गलत बात है और मुझे इस सब में मत घसीटो | उसने कहा मुझे इससे कोई मतलब नहीं है पर वो मेरी बात सुनने को तैयार नहीं थी इसलिए मुझे उसकी बात मानी ही पड़ी | पर मुझे नहीं पता था की उसकी बहन भी इस सीज का फायदा उठाने वाली है | उसने भी मुझे उसी चीज़ के लिए राज़ी किया | मैंने कहा ठीक है मैं एक जगह पे चुदाई नहीं करूँगा | तब राहुल की बीवी ने कहा ठीक है मुझे मेरे घर पे चोदो और मेरी बहन को उसके घर पे | मैंने कहा ठीक है मुझे कल से टाइम मिलेगा आज तो मैं बिजी हूँ |

उन दोनों ने कहा ठीक है फिर मैंने सोचा चलो चूत है मार ही लूँगा पर मुझे आगे आने वाले खतरे का अंदाज़ नहीं था | अब मैं अगले दिन उसके घर चला तो गया पर मुझे इतना अच्छा नहीं लग रहा ता क्यूंकि उसकी बीवी नर्स बनी हुयी थी | और उसके हाथ में हंटर भी था | अब मेरी गांड लपाका ले गयी और मुझे उसने कहा नंगे हो जाओ | मैंने तुरंत अपने कपडे उतार दिए और उसने मेरा लंड पकड़ लिया | उसने मेरा लंड जोर जोर से चूसना शुरू किया और मुझे मज़ा आने लगा | फिर मैंने उससे कहा की मुझे मज़ा आ रहा है और ज्क्सोर से चूसो | जब उसने मेरे साथ ऐसा करना शुरू किया तब मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करने लगा | फिर मैंने उससे कहा बहुत अच्छा लग रहा है करती जाओ और थोड़ी देर बाद मैंने उसके मुह में अपना मुठ गिरा दिया और वो सारा पी गयी |

उसके बाद जब मेरी बारी आई तब उसने मेरी गांड पे हंटर मारना शुरू किया और मार मार के लाल कर दिया | फिर उसने कहा मैं नर्स हूँ और मुझे पेशेंट को दूध पिलाना है | अब वो मुझे अपना उध पिला रही थी और उसके निप्पल इतने मुलायम थे कि वो मेरे मुह में मादकता घोल रहे थे | वो थोड़ी देर बाद आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करने लगी | फिर वो धीरे धीरे मेरा लंड हिलाने लगी और मेरी गांड में ऊँगली डालने लगी | फिर उसने कहा नर्स की चूत चाटो | मैंने जैसे ही उसकी चोट चाटना चालु किया और वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करती जा रही थी |

फिर उसने मुझसे कहा अपना लंड डालो और मैंने यही किया | मैंने उसकी चूत में लंड डाला और चोदना शुरू किया | ओ आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करती रही और मुझे मज़ा आता गया | फिर एक घंटे के बाद मैंने उसको छोड़ा जब मेरा माल निकल गया | उसके बाद अगले दिन वो पुलिस वाली बन गयी और मेरी गांड पे डंडे मारने लगी | ऐसा करते करते एक महीने हो गए | फिर उसकी बहन ने मुझे बुलाया और उसका नंगा बदन मस्त था | पर वो भी कभी जंगली तो कभी ज़ालिम औरत बन जाती | जब मैं उनकी चूत चोदता वो बस आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करती रह जाती | पर इस चक्कर में मेरा सारे घी और दूध निकल गया और मेरी गांड फटी पड़ी हैं क्यूंकि आज भी मुझसे चुदती हैं वो लोग |

और कहानिया

 

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *