रिया की माँ की प्यास

ये बात जब की ह जब मा 11त क्लास मे था मैने न्यू टीयूशान लगवया था और वो सिर मुझे ऑल सब्जेक्ट्स पड़ते थे.मा जब व्हा पहली ब्र गया तो एक दीदी ने गाते खोला मुझे लगा ये उनकी बेटी होगी पर न वो उनकी वाइफ थी उनका नाम रिया था वो भत ही यंग थी और भत ही क्यूट वो ज्यदा गोरी न थी लेकिन उनके आखो से लेके पैरो तक मोटी बरसते थे.

मैने बोला मे-एक्सक्यूस मे मुझे टीयूशान ल्ज्ना ह रिया-कोन्से सब्जेक्ट का तोड़ी देर तक बात हुई तो मुझे टा च्ला के मुझे रिया न उनके हज़्बंद प़ड़ाएगे तो मेरा मूड ऑफ हो गया. मा व्हा जाता तो था किताबो का ज्ञान लेने लेकिन रिया को देख के ज्ञान तो दूर मा तो किताबो का न्म भ न य्ड कर पाया काफ़ी टाइम बीट गया पर हुमारी कुछ बात न हुई क्यूंकी सिर हुमेशा घर होते थे .

6 महीने बीट गये और हुमारी बात कुछ काश न हुई फ्र दीवाली का फेस्टिवल आया हर कोई अपना घर सज़ा रा था और दीवाली बस 3 दिन दूर थी मा टीयूशान गया.तो रिया ने गाते खोला उनोणे एक सूट पह्न रखा था ब्लॅक कोलूर का और भत क्यूट लग्री थी फ्र वो बोली रिया-बेटा तुम बेठ जाओ सिर अभी तोड़ी देर मे आएगे मे-ओक माँ 10 मीं बीट गये बट सिर न आए फ्र रिया आई रिया-बेटा सिर तो लाते हो जाएगे तुम मेरी हेल्प कर सकते हो तोड़ी भत डेकोरेशन करनी ह मे-हा माँ क्यू न मेरे अरमान तो 7वे आसमान पे थे के शयड आज कुछ इस मोटी का कुछ आनंद आ सके.पहले मैने सिंपल डेकोरातीओब कसरी वॉल्स पे फ्र उनोणे मुझे कॅंडल लाने को बोला मैने एक कॅंडल जलाई और भर लेके ज़रा था के ग़लती से कॅंडल का वॅक्स रिया के फुट पे गीर गया रिया-अहह

मे-ओ सॉरी सॉरी मन ग़लती हो गयी रिया-कोई न बेटा इट्स ओक बट उनकी उस आह ने मेरी सोई हू हवस जगा दी फ्र वो बोली रिया-बेटा बस एक लास्ट किलो मिटर करदो वॉल्स पे लाइट्स लगवा दो मे-ओक माँ वॉल तोड़ी उची थी तो वो चेर ले आई दें वो बोली रिया-एक किलो मिटर करते ह मा चेर पे कड़ी हो जाती हू और तुम मुझे पीछे से पकड़ लेना ओक प्ल्ज़्ज़ ध्यान से मा नर्वस था के कुछ गड़बड़ ना हो जाए वो चेर लाई और उसपे कड़ी हो गयी मैने अन पीछे से पकड़ लिया और वो लाइट लगने लगी बट उसी वक़्त एक रात आ गया नीचे मैने उसपे ध्यान न दिया बट वो मेरे पैर पे चड़ गया मा दर गया मैने रिया को चोद दिया वो मेरे उपर गिर गयी उनका तो टा न बट मुझे लग गयी बट मा क्या कराता …

मे-सो सॉरी माँ ग़लती हो गयी वो रात आ गया था रिया-इट्स क वैसे भ किलो मिटर हो गया था मे-ओक माँ मा चलता हू अब रिया-न अभ थोड़ा भत खा लो मैने भत म्ना करा बट वो न मानी फ्र वो स्नॅक्स लेके आई हम खा रहे थे के उनोणे पूछा रिया-तुम इतने शरीफ हो ही या बस लगते हो मे -मा समझा न रिया-आज जब मा तुम्हारे उपर गीरी तुम्हारे हाथ खा थे मा दर गया के अभ क्या होगा क्यूंकी उस समये ग़लती से मेरे हाथ उनके बूब्स पे थे मे-माँ वो ग़लती से हो गया था रिया-कोई न बचे हो तुम कोई गर्ल फ्रेंड ह तुम्हारी मे-न माँ मा इन सब चीज़ो मे न प़ड़ता रिया-क्यू इसमे या गॉल्ट ह मे-ये ही बस पयर-व्यर जब ब्क्वास ह फ्र हम असे ही बात करते रहे माँ काफ़ी ओपन हो गयी थी मे-माँ मा जायू इट्स तो लाते नाउ रिया-हा बट एक किलो मिटर कर सकते हो मे-हा माँ बोलो रिया-क्ल तुम्हारे सिर किलो मिटर से भर ज़ाएहे म्ड पूरे ग्जर को सजना तुम हेल्प करने आ सकते तो अछा होता अग्र तुम फ्री हो तो मे-ओक माँ नो प्राब्लम मेरा मन तो बस पगल हो गया और मेरा नाग देवता तो जायस्व बस पगल सा हो गया..

मा अगले दिन ज्लडी उठ के 9 ब्जे रिया के घर पाउच गया वो उस त्यम घर सॉफ कर रही थी वो मुझे देख के बोलती रिया-अरे बेटा तुम आ गये तुम बतो मा बस णहके आती हू मे-ओक वो न्हाने चली गयी 15 मीं ब्ड आवाज़ आई रिया-बेटा मे-एस माँ रिया-मेरा टवल डेडॉ मा भूल गयी सोफे पे ही होगा मैने टवल उठया और गया तो एक गीला हाथ बाथरूम से भर आ रा था मा तो पगल हो गया उस हाथ को देखता रहा गया इतने मे रिया-बेटा डेडॉ टवल मे-ऊ एस माँ फ्र माँ भर आई उनकी वो गीली ज़ुल्फेन नंगी टाँगे मा तो बस पगल सा आशिक़ ब्न गया उनका अभ तो बस मन करा था के इस आम का रस चूस लू सारा फ्र हमने कम करन्ना श्रु करा और 3 बाज गये .मा त्क सा गया और हम बात गये एक दम से रिया बोली

रिया-तुम सच सच बोलना आज जब मैने तूमे टवल देने के लिए बूलया तो तुम क्या देखने की कोशिश कर रहे थे मा घहबरा गया और बोला मे-कुछ न मा वो असे ही रिया-मैने बोला सच सच ब्ताओ मे-माँ आपके हाथ भत अच्छे लग्रे थे रिया-तुम लगते बस शरीफ हो बट हो तुरके टुमरे लक्षण कुछ त्क न लग्रे सच सच ब्ताओ तुम मेरी इतनी हेल्प क्यू करे हो मे-माँ सच बोलू मुझे आप भत अच्छे लगते हो मा पहके ही दिन से आपका दिवना हो गया था और आज क्ल तो बस आपके बड़े मे सोचता हू फ्र 2 मीं तक रूम मे शांति हो गयी और फ्र रिया हासने लगी तेज तेज ..तुम तो सही मे तुरके मुझे थोड़ा बुरा लगा क्यूंकी मुझे लगा के वो भ शयड बोलेगी ई लव यू तो फ्र वो उठी और हंसते हुए चले गयी मा व्हा से उयजा और घर को जाने लगा फ्र वो हुया जिसका मुझे इंतेज़ार था रिया-तुम जा रहे हो

मे-एस माँ रिया-ओक बाये बेटा आज सुबे टवल मैने जान पूछ के चोदा था सोफे पे मे-मा संजा न रिया-तुम्हारे सिर भत बिज़ी रहते ह और ई फील लोन्ली तो मुझे कोई चाय था जो मेरी फीलिंग्स पूरी कर सके और मुझे तुम अच्छे लगे मे-मतलब् आप मुझे उसे करी थी रिया-न मा छठी हू के तुम मुझे उसे करो मा अंदर जा रही हू चाय्स इस युवर्ज़ मा तो 2 मीं के लिए जाओसए कोमा मे च्ला गया ओर रिया एक नर्स की त्रह मेरे संबे से चली गयी मुझे समझ न आया के मा आज अपनी वीरगंतीय मा फास्ट तोड़ दु या घर जाके बाय्फ्रेंड डेक्ग के ही कुश हो जायू बट न मा अंदर गया वो भ जोश मे रिया बेड पे बती थी और उसकी आइज़ क्लोज़ थी और वो आराम कर रही थी मैने जाके उसके आइज़ पे किस किया उसने आइज़ खोली न्ड बोली रिया-थॅंकआइयू वापिस आने के लिए मा अभ तुम्हारी हू जो कर्मा छठे हो कर लो

मैने सब्से पहले उसकी सूट की चुनी निकल कर फक दी और उसके बूब्स ड़बने लगा वो ज्यदा मोटे तो न थे पर टाइ सिलिकन के जैसे फ्र मैने उनके होतो को छुड़ा उनके मुहह से आवाज़े आ रही थी ‘अहह ऊऊओ अहह ऊऊ’ फ्र मैने उनके बाल खोले और उनके पकड़ लिया और किस करटा रा फ्र उनओबे मेरी शर्ट निकालु और मेरे चेस्ट पे किस करने लगी मा भ पूरे मूड मे थे अभ फ्र मैने उनकी उपर सलवार निकल दी अंदर तो जैसे जन्नत थी उनकी रीड कोलूर की ब्रा जिसे 2 टाइट निपल्स भर निकलने को बेकाबू थे मैने उनपे ही बीए करी

रिया-अहह बेटा अहह फिर मैने उनकी ब्रा निकली और मैइमे फाइनली उस आम का उपर का हिस्सा निकल दिया और अभ उसमे से रास निकलना था मैने अन लेता दिया और उनके बूब्स को चूसने लगा वो आवाज़े निकल रही थी ‘अहह अहह ऊऊओ बेटा अहह” और असे करते करते मेरे हाथ नीचे गये उनकी पेंटी मे जैसे ही मेरा हाथ उनकी चुत ओए टच हुया उनके और मेरे शरीर मे करेंट सा डॉड गया वो काफ़ी हो गयी मे-क्या हुया माँ रिया-बेटा इस गुफा के अंदर भत सेम ब्ड आग लगी ह तो गरम ज्यदा हो गयी मा हासने लगा और अन लेता दिया और फ्र लिगज़्त चली गयी जिससे पूरे रूम मे गर्मक हो गयी बट रिया बोली रिया-बेटा जो मज़ा गरमो मे आता ह वो मज़ा ठंड मे खा मा कुश हो गया और उनके पेट पे किस करने लगा और धीरे धीरे नीचे गया और उनका पेटीकोत निकला धीरे धीरे और जब निकला तो उनकी पेंटी इंतेज़ार थी और रीड कोलूर की थी मा उनकी पंटु निकलने वाला था के वो बोली रिया-रूको

मे-क्यू रिया-अभ तुम लेतो मा लेट गया और उनोणे मेरी जीन्स निकल दी वो कुश सी जो गयो मेरा लंड फुल पवर मे था और उसकी शेप मेरी अंडरवियर पे सॉफ धीख रही थी उनोणे मेरी तरफ देखा और उसे कातने लगी उपर से मुझे मज़ा आ रा था फ्र उनोणे मेरी अंडरवियर पे किस करी और अपने दाटो से पकड़ के उसे निकल दिया अभ मा उनके सामने पूरा नंगा लेता हुया त्या मा भत पसीने मे था तो वो मेरे लंड को चातने लगी मा पगल सा हो गया मा बोला मे-रूको माँ असे तो मेरा 5 मीं मे झड्द जाएगा रिया-रूको मुझे संज न आया वो अंदर गयी और एक कापसुएल लेके आई और बोली रिया-इसे लेली ज्लडी न जाडेगा मैने वो ले लिया और लेट गया फ्र रिया ने मेरा लंड पकड़ा और हिलने लगी तेज़ तेज़ मा जैसे भावनेयो के समुंदर मे डूब गया मा जन्नत मे था फ्र उनोणे मेरे लंड को अपने मुहह मे ले लिया न्ड चूसने लगे और अपने दूसरे हाथ असे मेरे बॉल्स से खेलरी थी मा भत ज्यदा कुश था फ्र वो बोली भत मज़े ले लिए मेरे लंड से पानी टप्क रा था

मे-आप भत अच्छे हो अब मुझे भ कुछ करने दो मैने अन बेड पे लेता दिया हम दोनो पसीने से भरपूर थे फ्र मैने उनकी पेंटी निकली भत धीरे धीरे वो शर्मा रही थी और मैने उनकी पेंटी निकल दी मेरे सामने एक पड़ी थी जिसकी जन्नत का दरवाजा खुलने को बे काबू था उसके शररेर का शयड हर एक अंग ब्नाने वाले ने भत ध्यान से बनया था उसकी हर एक चीज़ पर्फेक्ट शेप और साइज़ मे थी और बेस्ट बात उनकी चुत पे एक भ बाल न था मेर्से रुका न गया मैइमे उनकी चुत पे क़िस्स्स करा वो आवाज़े निकालने लगी ‘अहह अहह ऊऊओ अहह’ फ्र मैने पूछा

मे-माँ मा इसमे घुसा सकता हू रिया-पूरी कार च्ला ली अभ पुछरे हो के पेट्रोल डालु या न मा समझ गया सिग्नल ग्रीन ह मेरा ये फर्स्ट टाइम था मैने भत ध्यान से अंदर घुसया वो चीलाई “अहह अहह’ मा डाट गया और बोला सॉरी सॉरी माँ रिया-(गुस्से मे बोली) तुम पगल हो भर क्यू निकला अभ बस स्टार्ट फ्र वो बोली भत मज़े ले लिए मेरे लंड से पानी टप्क रा था

मे-आप भत अच्छे हो अब मुझे भ कुछ करने दो मैने अन बेड पे लेता दिया हम दोनो पसीने से भरपूर थे फ्र मैने उनकी पेंटी निकली भत धीरे धीरे वो शर्मा रही थी और मैने उनकी पेंटी निकल दी मेरे सामने एक पड़ी थी जिसकी जन्नत का दरवाजा खुलने को बे काबू था उसके शररेर का शयड हर एक अंग ब्नाने वाले ने भत ध्यान से बनया था उसकी हर एक चीज़ पर्फेक्ट शेप और साइज़ मे थी और बेस्ट बात उनकी चुत पे एक भ बाल न था मेर्से रुका न गया मैइमे उनकी चुत पे क़िस्स्स करा वो आवाज़े निकालने लगी ‘अहह अहह ऊऊओ अहह’ फ्र मैने पूछा

मे-माँ मा इसमे घुसा सकता हू रिया-पूरी कार च्ला ली अभ पुछरे हो के पेट्रोल डालु या न मा समझ गया सिग्नल ग्रीन ह मेरा ये फर्स्ट टाइम था मैने भत ध्यान से अंदर घुसया वो चीलाई “अहह अहह’ मा डाट गया और बोला सॉरी सॉरी माँ रिया-(गुस्से मे बोली) तुम पगल हो भर क्यू निकला अभ बस स्टार्ट करो एंजिन कार रीडी ह मा पगल हो गया और अंदर घुसाया भत देर तक चुदाई होती रही उनकी वो नशे मे पगल थी और मा भ

फ्र मैने बोला मे-माँ आप डॉगी ब्न जाओ उसमे अछा लगेगा रिया-तूमे कैसे टा मे-माँ वो मा पॉर्न देखता हू वो हस्सी और डॉगी बन गयी उनकी गान्ड का छोटा सा होल मेरे सामने था मैने अन बोला मे-माँ खा डालु रिया-चुत मे मे-तोड़ा उपर डालने दो रिया-न व्हा दर्द होता ह व्हा न मे-माँ बस एक ब्र मेरे लिए इतना भ न उनोणे ने कुछ देर सोचा और बोली त्के बट आराम से मैने लंड उनकी गांड पे रखा उनके बाल पकड़े और ज़ोर का झटका मारा और लंड गान्ड के अंदर अन आसू से निकल गये लेकिंग मा पाल हो गया और तेज़ तेज़ करने लगा वो बोलने लागो बेटा रुक जाओ पर मा न रुका कतीब 5-7 मीं ब्ड मेरा झड़ने की हॉल्ट मे आ गया मैने भर निकला तो देखा रिया के चेहरे पे आसू थे

मे-सॉरी माँ रिया-इट्स ओक मे-मेरा झड़ने वाला ह रिया-खा झड़ना ह मे-माँ वो पॉर्न मे देखा ह लड़के मुहह पे निकलते ह वो हस्सी और मेरा लंड मुहह मे लेके हिलने लगी मा सातवे आसमान पे था ओर जब मेरा झाआड़ मा बातये न सकता मेरा इतना झाड़ा के रिया का पूरा मुहह भर गया और लंड मुहह से निकलते ही बोली हॅपी दीवाली फ्र हम लेट गये और कुछ देर आराम करा फ्र मा घर आ गया

और कहानिया

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *