सोनिया ने शिमला में करवाई चुदाई

हैल्लो दोस्तों मेरा नाम है राहुल और मैं बीकानेर का रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 25 साल है कद 5 फुट 10 इंच रंग गोरा और हेल्थ भी अच्छी है | मैं दिखने में अच्छा हूँ और अभी मैं बैंगलोर में एक बड़ी कंपनी में सॉफ्टवेर डेवलपर हूँ | मेरा घूमने का बहुत शौक है और मैं हमेशा ही नई नई जगहों पर घूमने जाता रहता हूँ | ये कहानी है एक सच्ची घटना है जो मेरी साथ हुई थी जब मैं शिमला घूमने गया था | तो बिना किसी बकवास करे मैं अपनी कहानी शुरू करता हूँ |

ये बात लगभग साल भर पहले की है जब मैं और मेरा दोस्त शिमला घूमने गए थे | मेरे दोस्त का नाम रवि है और वो भी मेरे साथ कंपनी में काम करता है | हम दोनों शिमला जा रहे थे तो हमारे सामने वाली सीट पर एक लड़की बैठी हुई थी | तो रवि ने उससे बात करना शुरू की और उसने बताया कि वो भी शिमला जा रही है और वो पुलिस में है और वहीँ काम करती है | बात उससे रवि कर रहा था लेकिन जवाब वो मुझे देखकर दे रही थी | तो मैंने भी उससे बात करना शुरू कर दिया और वो भी अपने बालों से खेलते हुए मुझसे बात करती रही | उसका नाम सोनिया था और वो दिखने में ठीक ही थी मतलब उतनी कुछ ख़ास नहीं थी | रात का समय था और मैं टॉयलेट करके वापस आ रहा था और करने जा रही थी तो मैं एक साइड चिपक गया और उसे साइड देने लगा | वो मेरी करीब हुई और अपने दूध छुलाते हुए निकल गई | मुझे मज़ा तो आया लेकिन मुझे डर लग रहा था क्योंकि वो पुलिस में थी और आसानी से मेरी मार सकती थी |

फिर मैं जाके सो गया और अगले दिन चुपचाप स्टेशन पर उतार कर चला गया | मेरा शिमला में 6 दिन तक रुकने का प्लान था और मुझे घूमते घूमते दो दिन हो चुके थे | तीसरे दिन मैं अपने होटल के कमरे से बाहर निकला और नीचे देखा तो पुलिस खड़ी थी | मैं नीचे गया और देखा कि सोनिया भी वहाँ पर खड़ी थी | उसने मुझे देखा और मेरा पास आ गई और मेरे बारे में पूछने लगी कि कौन से रूम में रह रहे हो ? और कहाँ कहाँ घूम लिए हो ? तो मैंने उसको थोडा बहुत बताया और पूछा कि यहाँ क्या हो रहा है ? तो उसने बताया कि हमें खबर मिली थी कि यहाँ पर ड्रग्स हैं उसी के लिए आए है | उसने मुझसे पूछा कि और कितने दिन रुकोगे ? तो मैंने कहा 3 दिन और | तो उसने कहा वैसे मेरी दो दिन की छुट्टी है साथ में घूमने चले क्या ? तो मैंने कहा हाँ क्यों नहीं | तो उसने कहा ठीक है कल मिलते है और उसने मेरा नंबर ले लिया |

फिर अगले दिन सुबह उसका फ़ोन आया और हम तीनो घूमने निकल गए | हम तीनो उस दिन और अगले दिन भी साथ साथ घूमे और फिर रात को उसने मुझसे पूछा पीते हो क्या ? तो मैंने हाँ कहा लेकिन रवि तो पीता नहीं था इसलिए उसने मना कर दिया | उसने कहा अच्छा चलो मेरे रूम पर वहाँ पर अपन दोनों महफ़िल जमाते हैं | तो मैंने रवि को होटल जाने के लिए कह दिया और मैं सोनिया के साथ उसके रूम के लिए निकल पड़ा | रास्ते में उसने व्हिस्की की एक बोतल ली और फिर हम दोनों उसके रूम चले गए | उसने मुझे अपने अपार्टमेंट के सामने उतारा और कहा कि रुको मैं दो मिनिट में आती हूँ | फिर वो चली गई और थोड़ी देर में आ गई | फिर हम दोनों उसके रूम में गए और उसने कहा तुम यहाँ बैठो मैं अभी चेंज करके आती हूँ | फिर वो अन्दर गई और कपडे बदल कर आ गई | उसने बहुत ढीले कपडे पहने थे और जैसे ही वो गिलास रखने के लिए नीचे झुकी तो उसके दूध दिख रहे थे | मैं उसके दूध देखने लगा और फिर उसने मुझे देखा और मैंने नज़रें घुमा ली |

फिर वो कहने लगी चलो बनाओ मैं अन्दर से चकना लाती हूँ | फिर वो अन्दर गई और खाने के लिए कुछ ले आई और मैं पेग बनाने लगा | फिर हम दोनों पीने लगे और तीसरे पेग में उससे नशा हो गया | मुझे ज्यादा नशा हुआ नहीं था और ज्यादा हो गई थी तो हमने पीना बंद कर दिया | हम दोनों अब साट बैठ गए और बकवास करने लगे | उसने कहा राहुल मुझे तुम बहुत पसंद हो और मैं तुम्हारे साथ सैक्स करना चाहती हूँ | मुझे लगा ये नशे में बोल रही है तो मैंने कहा अरे तुम नशे में हो बाद में बात करते हैं | तो उसने कहा नहीं मैं सच बोल रही हूँ क्या तुमने मेरे इशारों पर कभी ध्यान नहीं दिया और ये दो दिन की मैंने छुट्टी ली है ताकि तुम्हारे करीब रह सकूँ | मुझे अब लग रहा था कि ये पुरे नशे में नहीं है तो मैंने कहा लेकिन मैं तो तुम्हें पसंद नहीं करता | तो उसने कहा क्या तो तुम अभी मेरे अन्दर क्यों झांक रहे थे ? तो मैंने कहा नहीं मैं नहीं देख रहा था |

उसने कहा ज्यादा मत बन समझा और मैं तुझे शादी करने को नहीं कह रही हूँ बस एक दो बार मेरे साथ और फिर चले जाना | मुझे लग रहा था कि कहीं ये बाद में मुझ पर झूठा इलज़ाम ना लगा दे | फिर वो उठी और अन्दर गई और पिस्तौल निकाल कर लाई और मुझे दिखाते हुए कहा देख या तो मेरे साथ  रात बिता ले या फिर मैं तुझे उड़ा दूँ | अगर मैं चाहूँ तो तुझे ड्रग्स के इलज़ाम में अन्दर कर सकती हूँ क्योंकि तू उसी होटल में था और उसी दिन ख़बर आई थी सोच ले | तो मैंने सोचा चलो कर लेते है कहीं ये मुझे कुछ कर ना दे वरना मैं यहाँ से भाग भी नहीं पाउँगा | तो मैं खड़ा हुआ और उसके पास गया और कहा अरे तुम तो बेकार में ही गुस्सा कर रही हो मैं तो मजाक कर रहा था मैं भी तुम्हें पसंद करता हूँ | तो उसने पिस्तौल अन्दर फेकी और जल्दी से अपने कपडे उतार दिए | उसने अपना पजामा उठाया और उसमें से कंडोम निकाले और मुझे दिए और कहा चलो हो जाओ |

फिर मैंने उससे कंडोम लिया और अपनी जेब में रख लिया और उसके दूध दबाने लग गया | जैसे ही मैंने उसके दूध दबाना शुरू किया उसकी आँखें चमकने लगी और वो धीरे धीरे सिकुड़ने लगी | तो मैंने उसको कमर से पकड़ कर अपने से चिपका लिया और उसे किस करना शुरू कर दिया | वो मुझसे लिपट गई और जोर जोर से किस करने लगी | फिर मैं थोडा सा झुका और उसके दूध चूसने लगा | उसके दूध अच्छे थे और निप्पल छोटे छोटे से थे | मैंने उसके दूध चुसे और उसकी पैंटी उतार दी | उसकी चूत थोड़ी काली सी थी लेकिन उसे चोदना मेरी मज़बूरी थी | फिर मैंने उसकी चूत घिसी और वो अह्ह्हह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह म्मम्मम्म हम्मम्मम्म ह्म्म्मम्म्म्म हम्मम्मम्म उह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्हह्ह्ह् करने लग गई |

फिर मैंने उसको बिस्तर पर लिटा दिया और अपने कपडे उतारने लग गया | वो मुझे देखकर अपनी चूत रगड़ रही थी | फिर मैं पूरा नंगा हो गया और अपने लंड पर कंडोम लगाकर उसके ऊपर चढ़ गया | मैंने उसकी चूत में लंड डाला और उसकी अह्ह्ह्हह निकल गई | फिर मैं उसे धीरे धीरे चोदने लगा और वो अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह उम्म्म्मम्म उम्म्म्मम्म ह्म्म्मम्म हम्मम्मम्म अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह ह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्ह्हह्ह करने लगी | थोड़ी देर चोदने के बाद मैंने जोर जोर के झटके मारते हुए उसे चोदना शुरू किया और वो अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह हह्ह्ह्हह्ह ह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्ह्हह्ह उह्ह्ह्हह्ह करते हुए चद्दर पकड़ने लगी | थोड़ी देर की चुदाई के बाद मेरा झड़ गया और फिर मैं उसके ऊपर लेट गया |

फिर उसने मुझे अपने ऊपर से हटाया और बाजू में लिटा दिया और मेरे लंड के ऊपर से कंडोम हटके मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया | वो थोड़ी देर तक मेरा लंड चूसती रही और मैं वहीँ लेटा रहा | फिर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया | फिर उसने दूसरा कंडोम लिया और मेरे लंड के ऊपर चढ़ा दिया | फिर वो मेरे लंड के ऊपर बैठी और मेरा लंड अपनी चूत में डालकर उचकती रही और अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्ह्हह्ह उह्ह्ह्हह्ह हम्मम्मम्म हम्मम्मम्म म्मम्मम हह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्हह्ह ह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्ह्हह्ह्ह्हह आह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह करती रही | फिर वो थक कर मेरे ऊपर लेट गई और में नीचे से झटके मारते हुए उसे चोदता रहा | फिर थोड़ी देर में मेरा फिर से झड़ गया और फिर मैंने अपने लंड से कंडोम हटाया और सो गया | मैं आधी रात को उठा और बिना कोई आवाज़ करे वहाँ से चला गया | फिर मैं होटल पहुंचा और वहाँ से दूसरी होटल चला गया और अपना मोबाइल भी बंद कर दिया | उसके बाद मैं अगले दिन वापस आ गया और उसके बाद शिमला कभी नहीं गया |

दोस्तों ये थी मेरी कहानी | आप लोगों को कैसी लगी कमेंट करके जरुर बताइयेगा | मुझे इंतजार रहेगा |

और कहानिया

 

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *