Antervasna Desi Story Archive

चाची ने लंड लिया, भतीजी ने चूत में ऊँगली की

मेरा नाम शकीना है और मैं अपनी फेमली के साथ वापी गुजरात के पास एक गाँव में रहती हूँ. हमारी जॉइंट फेमली है और मेरे घर में मम्मी पापा, बड़ा भाई, चाचा, चाची और उनका एक बेटा

वीर्यदान करके दोस्त की बीबी को माँ बना दिया

हेलो फ्रेंड्स, मेरा नाम बीनू है और मैं पंजाब का रहने वाला हूँ. मैं अभी एक प्राइवेट कम्पनी में नौकरी कर रहा हूँ. मैं 40 साल का शादी शुदा मर्द हूँ. पर सेक्स के मामले में मैं

गोरखपुर की जीनत ने घर बुला कर चुत चुदाई

नमस्कार मित्रो, मेरा नाम रजत मिश्रा है, मैं गोरखपुर का निवासी हूं, मैं 24 साल का युवक हूं मेरी हाईट 6 फिट है और लंड का साइज स्केल से नापा हूं साढ़े 7 इंच है और मोटाई

मेरे अधूरे प्यार की दास्तान

मैं 18 साल का हरियाणा का रहने वाला लड़का हूँ। पिछले साल ही मैंने 12 वीं पास किया है। जब स्कूल में मैंने 11वीं क्लास में नया एड्मिशन लिया था तो मेरे एड्मिशन के एक महिने बाद

तलाकशुदा आंटी सेक्स के लिए मुझे अपने घर ले गई

मैं विशाल वेदक 24 साल का लड़का मुंबई में रहता हूँ, मेरे परिवार में चार लोग हैं पापा, मम्मी, बहन और मैं! मेरे पड़ोस में 36 साल की एक आंटी रहती हैं जिनका नाम वर्षा है, उनका

मेरी और अभिलाषा की प्रेम भरी चुदाई स्टोरी

दोस्तो, मैं फिर आया हूँ अपनी एक नई चुदाई स्टोरी के साथ जो मेरे साथ 2007 में घटी थी। सभी लंड वाले मनचले अपना लंड हाथ में ले लें और चूत वालियाँ अपनी अपनी चूत को गर्म

पड़ोसन विधवा और उसकी तीन बेटियों की चूत चुदाई

हैलो, मैं रमेश देसाई माँ बेटी की चुदाई की सेक्सी कहानी लेकर आप सबके सामने हाजिर हुआ हूं। मेरी पड़ोस में एक 50 साल की औरत रहती है, सारंगी नाम है उसका, उसकी तीन बेटियां हैं। उस

सेक्सी ब्लू फिल्म दिखा कर काम वाली को चोदा

मेरा नाम प्रवीण पाण्डेय है, दोस्त मुझे प्राण बुलाते हैं। मैं 5 फुट 10 इंच का हूँ, सामान्य बॉडी है, मेरे लंड की लंबाई 6 इंच है, मैं इलाहाबाद का रहने वाला हूँ। मैं पहली बार कहानी

लेडी डॉक्टर से पहले उसकी नर्स को चोदा

दोस्तो! मेरा नाम राज शर्मा है. यह बात तब की है जब मैं मात्र 18 वर्ष का था, परन्तु शरीर से तगड़ा था. आप मेरी पहली कहानी पड़ोसन आंटी की चुत चुदाई करके चोदना सीखा पढ़ चुके

पढ़ाई के दौरान हुई देसी चुत की चुदाई

आइये दोस्तो, आपको अपनी पड़ोसन रंगीली की गीली देसी चुत मारने की कहानी सुनाते हैं। रंगीली मेरे कक्षा में ही पढ़ती है और मेरे पड़ोस में रहती है। हम दोनों इंटरमीडियेट फाइनल इयर में थे और दोनों