तीन दोस्तों ने की एक लड़की की चुदाई

हाय मैं राहुल हूँ और मैं दिखने में काफी हैण्डसम हूँ| मेरी उम्र 23 साल है और आज मैं अपने लिए एक बहुत ही ज्यादा अच्छी और सच्ची सेक्सी कहानी ले कर आया हूँ| मैं दिल्ली में रहता हूँ और मैंने अपने स्कूलिंग भी यही से करी है और कालेज भी यही से करी है|मैं अब एक कंपनी में काम करता हूँ और काफी अच्छी लाइफ चल रही है| मैं अपनी लाइफ में बहुत ही ज्यादा खुश हूँ और बहुत ही अच्छी लाइफ तोह चल ही रही है|मैं चलो थोरा बहुत अपने बारे में भी बता देता हूँ. मेरी हाइट बहुत ही अच्छी है जिस पर काफी लड़कियां मरती है और उधर से मैं दिखने में भी काफी स्मार्ट हूँ| आज मैं आपको अपनी एक कहानी बताने जा रहा हूँ जो की बहुत अच्छी और सच्ची कहानी है|

जिस पर आपको काफी ज्यादा अच्छा लगेगा और काफी एन्जॉय भी करोगे|तो चलिए अब कहानी का श्री गणेश कर ही देते है| ये बात तब की है जब मैं कॉलेज में हुआ करता था और कॉलेज की स्टडी के लिए उसकी कोचिंग भी लिया करता था| मुझे कॉलेज जाना बहुत पसंद था क्योकि वहा पर काम के साथ-साथ एंजोयमेंट भी काफी हो जाता था|मैं अक्सर छुट्टी वाले दिन घूमने निकल जाता था और फ्रेंड सर्किल के साथ काफी एन्जॉय भी करता था|अब अप ये सोचेंगे की मेरी कॉलेज लाइफ में कोई गर्लफ्रेंड नही थी क्या जो उसका अभी तक कोई जीकर भी नही हुआ है| पर मैं आपको बता दूं की ऐसा भी कुछ नही है क्योकि मेरी गर्लफ्रेंड तो थी पर कुछ ऐसा हुआ की जिससे वो मुझे छोर कर चली गयी तो ये कह सकते है की मुझे धोका देने पर मैंने उससे बदला लिया|वेसे दोस्तों आज मैं वही बताने जा रहा हूँ| दरअसल ये बात उन दिनों की है जब मैं कॉलेज में ही था| और ट्यूशन जाता था वहा पर एक सोनाली नाम की लड़की भी आती है जो की मुझे बहुत अच्छी लगती थी| सोनाली दिखने में काफी सुन्दर थी और उसका रंग गोरा था और उसका फिगर तोह क्या कमाल का था|

फिगर पर तोह सरे ही लड़के मरते थे और उन्ही में से मैं एक था|पर मैंने बिना डरे उससे बात करना शुरू कर दिया था क्योकि तोह बस उसे अपनी फ्रेंड बनाना था| वो मेरी बात का जवाब दे दिया करती और फिर हमारी ऐसे ही हेल्लो हाई होने लग गयी| वो मुझे देख कर स्माइल पास कर दिया करती थी और मैं उसे देख कर स्माइल पास कर दिया था|मुझे ये सब बहुत अच्छा लगता था और ऐसे ही फ़ोन पर भी बाते होने लग गयी थी| हम पहले तोह फ़ोन पर बहुत ही कम बात किया करते थे पर फिर स्टडी के चलते एग्जाम भी पास आ गये तोह हमारी बाते भी बहुत ज्यादा होने लग गयी|तब मुझे रेआलिज़ हुआ की मुझे सोनाली से अटैचमेंट तोह पहले ही गो गयी थी पर अब तोह पयार भी हो गया था| मैंने डरते डरते सोनाली को अपने दिल की बात बताई तोह उसने मेरा दिल ही तोर्ड दिया| एक्चुअली उसने मुझे मना कर दिया था जिसका मुझे बहुत ही ज्यादा दुःख भी हुआ पर फिर मैंने जेसे तेसे खुद को संभाल लिया और फिर अपनी लाइफ में बीजी हो गया.फिर कुछ टाइम बाद मेरे एक दोस्त रवि ने मुझे बताये की सोनाली मेरी गर्लफ्रेंड बन गयी है|तोह मुझे उसकी ये बात पर बिलकुल भी विस्वास नही हुआ पर जब बाद में उसने मेरे सामने बात की तोह मुझे तब विस्वास हो गया|और ये देख कर मेरा दिल फिर से एक बार टूट गया|तब मैं ये सब कुछ भूल गया क्योकि सब याद करके मुझे ही दुःख होना था और फिर मैं अपनी लाइफ में फॉर से बिजी हो गया|

ऐसे ही कुछ समय निकलता चला गया और मैं भी अपनी लाइफ में मजे लेने लग गया और काफी खुश भी रहने लग गया.तभी एक दिन रवि मेरे पास आया| उसके चेहेरे साफ़ पता लग रहा था की कुछ तोह हुआ जिसकी वजह से रवि का मूड काफी सैड था| मैंने उसे अपने पास बिठाया और फिर उससे रीज़न पूछा तोह उसने बताया की सोनाली मुझे चोर्ड कर चली गयी है|या तोह फिर ये कहा की उसने मुझे धोका दिया है|रवि की ये बात सिन कर मुझे बहुत गुस्सा आया और मैं तब समझ गया की सोनाली उन लडकियों में से है जो की लडको साथ टाइम पास करती है और फिर कोई नया लड़का मिल जाने पर पहले वाले को चोर्ड देती है|अब ये सब देख कर मैंने सोच्चा की क्यों न उससे बदला लिया जाये| बस फिर मैंने रवि को बताया तोह वो मान गया पर मैंने उससे पूछा की तूने कभी सोनाली साथ सेक्स किया है तोह वो साफ़ ही मुकर गया फिर मैंने सोच्चा लिया की अब क्या और केसे सब करना है|मैंने अब अपने एक दोस्त पंकज को ये सब बताया और उसे अपने कोचिंग में एडमिशन ले कर सोनाली से फ्रेंडशिप करने को कहा| मेरे ऐसे कहने पर पंकज मान गया और उसने ठीक वेसे ही कियस जेसे की मैंने उससे खा था|अब जब वो आ गया तो उसने सोनाली से फ्रेंडशिप करली और उससे बाते करने लग गया और फिर मेरे ही कहने पर वो एक दिन सोनाली को अपने फ्लैट में ले आया जहा वो अकेला ही रहता था| मैं और रवि पहले से ही पंकज के बेडरूम में बेठे थे और उन्ही का इंतज़ार कर रहे थे|अब जब वो घर में आ गये तो थोड़ी देर वो बाहर रूम में बेठे और उसके बाद पंकज उसे अन्दर ले आया|कमरे में मुझे और रवि को देख कर वो एक दम से घबरा गयी और फिर वह से जाने को कहने लग गयी|पर तब पंकज ने उसे रोक लिया और फिर हमारी दोस्ती का बताया और उससे बेड पर पटक दिया|

अब सोनाली भी सब समझ गयी थी की अब क्या होने वाला है| इसिलए वो हमसे बचना चाहती थी पर हम तीनो ने उसे ऐसे पकड़ कर रखा हुआ था जिससे की वो हमसे बच कर कही जा ही नही सकती थी|अब हम तीनो ने मिल कर उसे नंगा कर दिया और खुद भी हो कर उस पर चढ़ गये|पंकज ये सब अपने मोबाइल में रिकॉर्ड भी करी जा रहा था इसलिए अब मैंने उसे लम्बा बताया और उसकी चूत पर आ कर उसकी चूत को चाटने लग गया और अपनी उंगली से उससे मरने लग गया|उधर रवि ने बिना कोई देर किये उसके मुंह पर अपना लंड रखा और मुंह में डालने लग गया पर सोनाली उसका लंड लेने से मना करने लग गयी तोह फिर रवि ने जबरदस्ती उसका मुंह खोला और उसके मुंह में जोर से लंड अन्दर तक डाल कर चोदने लग गया|सोनाली खुद को बचाने में लग गयी पर हमारे इस जन्गुलसे निकलना उसके लिए बहुत ही मुश्किल था इसलिए मैंने भी बिना कोई देर किये उसकी टंगे उठा कर उसकी चूत में खीच के लंड अन्दर तक डाल दिया और जोर जोर से ऊपर निचे करने लग गया| मुझे ये सब करने में बहुत मजा आ रहा था की वो तो बस खुद को चुदवाने में लगी हुई थी और साथ साथ रो भी रही थी क्योकि उसे बहुत ही ज्यादा दर्द हो रहा था|मैंने भी कोई परवाह नही करी और फिर रवि को चोदने को कहा और पंकज को उसका मुंह मुंह चोदने को कहा|

तब वो भी ऐसे ही जोर से उसको चोदने में लग गये और मुझे ये सब देख कर बहुत अच्छा लगने लग गया|उधर अब सोनाली भी हमे गालिया निकाल निकाल को चुदवा रही थी जो की काफी अच्छा था अब उनकी चुदाई के साथ साथ मैंने भी उसकी गांड पर लंड रखा और उसकी गांड में लंड उतर दिया जिससे की उसके मुंह से जोर से चीख निकले पर वो खुद को हमसे बच्चा नहीं सकी और हम ऐसे ही जोर जोर से उसको चोदने लग गये| चोदते वक़्त उसकी चूत और उसकी गांड से जम कर खून निकल रहा था और हम उसे चोदे जा रहे थे| फिर उसके बाद तीनो ने उसको जोर जोर से चोदना शुरू करदिया और फिर मैंने उसकी गांड में अपना पानी निकाल दिया और रवि ने उसकी चूत में और पंकज ने उसके मुंह में अपना पानी निकाल दिया फिर हमने अपना अपना लंड बाहर निकाल दिया.लंड बाहर आते ही वो तो जेसे गयी और हमारा सबका एक साथ पानी के कर वो जेसे काफी खुश थी और हमे बोलने लग गयी की तुमने तोह मुझे शादी से पहले ही चुद्दकद बना दिया और फिर वो वहा से थोरी देर बाद चली गई|

और कहानिया

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *